How to Meditiation
0 1 min 2 mths
0 0
Spread the love
Read Time:2 Minute, 4 Second

जय शिव ओंकारा, स्वामी जय शिव ओंकारा।Shiv Aarti

जय शिव ओंकारा, स्वामी जय शिव ओंकारा।
ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव अर्द्धांगी धारा॥
एकनाथ, दयामूर्ति, नमो नमो रामा।
पुनीत क्रपा धारी, जयवंती माता॥

चंद्र सोहे, मुख माहेश, यशवंत कृपाला।
सौभाग्य जगपाला, दारिद्र नाशी जगदम्बा॥

दर्शन करवाऊंत, सुख सम्पति दाता।
श्रद्धा भक्ति भावना, भक्ति जन संकट हारी॥

जय गिरिजापति दीन दयाला।
सदा करत संतन प्रतिपाला॥

आरती कीजै, जय गिरिजापति।
सुख संपति दाता, अस्त सिद्धि की राज।
जय गिरिजापति आरती कीजै॥

जय गिरिराज किशोरी आरती कीजै।
जय भवानी माता॥

ऐका प्रभु द्वादश ज्योतिर्लिंगांची आरती करावीत।
भवभयहरण ज्ञाननिधि का स्वामी।
जय कैलास वासा, शंकर।
सुखकारी धाता, श्री साम्बा शिवा॥

नवनाथ नाथ सिद्धिविनायक।
सांगती कोणासि, भावा सुखदाता॥

आरती कीजै, जय गिरिजापति।
सुख संपति दाता, अस्त सिद्धि की राज।
जय गिरिजापति आरती कीजै।
जय गिरिराज किशोरी आरती कीजै।
जय भवानी माता॥

ओं जय शिव ओंकारा, स्वामी जय शिव ओंकारा।
ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव अर्द्धांगी धारा

Also Read:shiv chalisa in hindi शिव चालिसा कितनी बार पढ़ना जरूरी है शिव चालिसा के नियमों का पालन न करने पर क्या हो सकता है

Also Read:श्री शनि वंदना का पूरा पाठ Shri Shani Vandana

Also Read:जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा shree Ganesh Arti

Also Read:Durga Chalisa दुर्गा चालीसा का पूरा पाठ

Follow Us: Facebook 

About Post Author

Anjana Kashyap

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %