delhi water crisis
0 1 min 2 mths
0 0
Spread the love
Read Time:3 Minute, 56 Second

नूंह: (electricity-water crisis in nuh haryana) जिला नूंह(मेवात) में 18वीं लोकसभा चुनावी महासमर का पारा बेशक खूमार पर नहीं दिखाई दे रहा हैं, लेकिन गर्मी के पारे के साथ-साथ जिला में बिजली-पानी का संकट गहराता जा रहा हैं। दोनों विभाग किल्लत का एक-दूसरे पर ठीकड़ा फोड़ रहे हैं। हैरत की बात यह देखने को मिल रही है कि चुनावी मौसम में जिला मुख्यालय, उप मण्डल व तहसील आदि स्तरों पर बैठकों का दौर के दौरान भी बिजली की किल्लत जग जाहिर हैं। जिला मुख्यालय नूंह के लघु सचिवालय परिसर में एक बैठक के दौरान घण्टों गुल बिजली इस बात को प्रमाणित कर रही हैं, जिला की तहसीलों, उप तहसीलों में बिजली गुल रहने व कोई वैकल्पिक व्यवस्था न होने से कामकाज प्रभावित रहता हैं।

सुरेन्द्र जैन, बंटी मनोचा, नवीन नम्बरदार, खुर्शीद नम्बरदार, दाउद, हाजी काले खान, दीपक गोयल, ललित बंसल, पंडित हितेश शर्मा, गुलशन जैन, पंडित गोपाल शर्मा आदि ने बताया कि गर्मी बढते ही जिला में बिजली-पानी का संकट बना हुआ हैं खासकर शहरी क्षेत्र में मोटा बिल अदा करने के बावजूद भी उपभोक्ताओं को पूरी बिजली नहीं मिल पा रही हैं। इसी तरह, कस्बा नगीना में जन स्वास्थ्य व अभियांत्रिकी विभाग के द्वारा उपलब्ध करवाए जाने वाला पेयजल खारा होने की वजह से जनता में विभाग के प्रति आक्रोश व्याप्त हैं ,समाजसेवी रजत जैन, मूलचंद शर्मा ने बताया की सरकार व प्रशासन जनता को स्वच्छ, साफ,निर्मल पेयजल उपलब्ध कराने के दावे करती है। लेकिन ये दावे कस्बा नगीना में खोखले साबित हो रहे हैं। क्योंकि कस्बा में विभाग के द्वारा पेयजलापूर्ति खारे जल की जा रही है। पेयजल खारा होने की वजह से रसोई सम्बंधित दैनिक कार्य भी प्रभावित हो रहे हैं।वही इस जल के उपयोग करने की वजह से जनता के स्वास्थ्य पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ रहा है।खारा जल के सेवन की वजह से आंत्रशोध( पेट से संबंधित) रोग होने के साथ-साथ चर्म रोग से सम्बन्धित दाद, खाज, खुजली के मरीज भी दिनोंदिन बढ़ते जा रहे हैं। धनाढ्य वर्ग के व्यक्ति तो 10 या 20 रुपये का दैनिक एक डिब्बा (केम्पर) मीठे जल का मंगा कर अपना कार्य चला लेते हैं या 800 रुपये से लेकर 1000 रुपये तक का निजी टैंकर मंगाकर जीवन यापन करने को मजबूर है।

इस बारे में डीएचबीवीएन के एजीएम से सम्पर्क करने पर बताया गया कि साहब फील्ड में हैं और वह ही इस बारे में बेहतर जानकारी मुहैया करा सकते हैं।

Also read:Lord Shiva भगवान शिव कथा भगवान शिव का परिचय

Also read:shiv stuti in hindi नित्यं शुद्धं निराकारं निरञ्जनं निर्विकल्पकम्

Also read:जय शिव ओंकारा, स्वामी जय शिव ओंकारा।Shiv Aarti

Also read:जय श्री राम चालीसा jai shree ram Chalisa Complete in Hindi

About Post Author

Anjana Kashyap

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %